भागलपुर : “सखीचंद घाट रोड स्थित सूर्य नारायण मंदिर”

बूढ़ानाथ की गलियों में बिखरे पड़े हैं भागलपुर की सांस्कृतिक विरासत “सखीचंद घाट रोड स्थित सूर्य नारायण मंदिर”

प्राचीन अंगभूमि के नाम से विख्यात रहे भागलपुर के इतिहास पर खोज व शोध तो बहुत हुए हैं, पर आज भी यहाँ की पुरानी गलियों और मुहल्लों में सांस्कृतिक-धार्मिक इतिहास के कुछ ऐसे पुराने पृष्ट बिखरे-से पड़े हैं जिन्हें खोजने-सहेजने की आवश्यकता है। कुछ ऐसे ही विचार लिये अपने इतिहासकार मित्र डॉ (प्रो) रमन सिन्हा के साथ मकर संक्रांति के पावन दिन पर मैं जा पहुंचा भागलपुर के नया बाजार मुहल्ले के निकट सखीचंद घाट रोड पर स्थित पुरातन सूर्य नारायण मंदिर परिसर में।

इस मंदिर के बारे में हमारे पर्यावरणविद् मित्र सुनील मंदार ने बताया था कि कभी यह उनके पूर्वजों की थाती थी जिसका प्रांगण काफी बड़ा था और यहाँ भव्य तरीके से पूजन-अनुष्ठान होता था। पर अब वैसी बात नहीं दिखती। अगल-बगल मकान बन गये हैं और मंदिर परिसर सिमट-सा गया है। खैर।

मंदिर की वास्तु-कला व मंदिर के प्लिंथ से उपर रोड की स्थिति देख इतिहासकार डॉ रमन सिन्हा अनुमान लगाते हैं कि यह 500-600 साल पुराना होगा। मुहल्ले की वयोवृद्ध महिला लक्ष्मी देवी बताती हैं यह मंदिर उनके दादा-परदादा से भी पुराने समय से है। मंदिर के अंदर सूर्य देव की श्वेत संगमरमर की प्रतिमा सहित भगवान शिव की मूर्ति व शिवलिंग स्थापित है जिनकी स्थानीय लोग पूजा करते हैं। मकर संक्रांति के दिन सूर्य के उत्तरायण होने के कारण जहाँ पूरे देश में सूर्य देव का विशद् पूजन-अनुष्ठान होता है, वहीं आज इस पुरातन सूर्य मंदिर में पसरे सन्नाटे को देख जी कचोट-सा गया। प्रति दिन अपनी रश्मियों से आलोकित करनेवाले देवता के मंदिर के अंदर ऐसा अंधेरा ?!

भले ही समय की मार से परास्त भागलपुर का यह पुरातन सूर्य नारायण मंदिर का परिसर सिमटकर रह गया है और मंदिर की व्यवस्था दयनीय हालत में पहुंच गयी है, किंतु कतिपय श्रद्धालू आज भी यहाँ आस्था का दीप जलाये हुए हैं।

सिमटकर रह गया है भागलपुर का सूर्य नारायण मंदिर परिसर

भागलपुर के सूर्य नारायण मंदिर में स्थापित भगवान सूर्य की प्रतिमा

भागलपुर के सूर्य नारायण मंदिर का अग्रभाग

भागलपुर के सखीचंद घाट रोड पर स्थित पुरातन सूर्य नारायण मंदिर।

______________________________________________________________________________________________________

लेखक : -शिव शंकर सिंह पारिजात (इतिहासकार),
अव. उप जनसम्पर्क निदेशक

1 thought on “भागलपुर : “सखीचंद घाट रोड स्थित सूर्य नारायण मंदिर”

  1. बेहतर जानकारी । संस्कृति , विरासत हेतु जागरूकता लाने का सफल प्रयास ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Cresta WhatsApp Chat
Send via WhatsApp
error: Content is protected !!