केवल भाषा नहीं… एक आशा है हिन्दी – स्तुति झा

शब्द नहीं
केवल भाषा नहीं
एक आशा है
हिन्दी,
सीखें बच्चा जो
पहली बोल
वो तोतलाती सी
बोल है हिन्दी।
माँ के रोली में बसता
है हिन्दी,
हिन्दुस्तान के दिल में
हंसता है हिन्दी।
हम दुआ करते है
ये कर्तव्य करते है,
किसी भी मंच पर
किसी भी पथ पर
हिन्दी को प्राथमिकता
देते है।
एक प्रार्थना है हिन्दी
एक भावना है हिन्दी
कवि के दो अर्थ है हिन्दी
हमारे लिए स्वर्ग है हिन्दी।।

कवियत्री : स्तुति झा (पटना )

Cresta WhatsApp Chat
Send via WhatsApp
error: Content is protected !!