राम जयपाल कॉलेज, छपरा के छात्र संघ अध्यक्ष राजेश रंजन कुमार ने थामा ‘आप’ की छात्र विंग CYSS का दामन

राजेश रंजन जी का सीवाईएसएस से जुड़ना जेपी विश्वविद्यालय के छात्र राजनीति के लिए शुभ संकेत : हिमांशु

बिहार भर में अपनी पकड़ मज़बूत करने में जुटी आम आदमी पार्टी को एक और बड़ी कामयाबी मिली है. जेपी विश्वविद्यालय के सचिव पद के पुर्व प्रत्याशी व राम जयपाल कॉलेज छपरा के छात्र संघ अध्यक्ष राजेश रंजन ने ‘आप’ की छात्र विंग “छात्र युवा संघर्ष समिति” (सीवाईएसएस) का दामन थाम लिया है. राजेश रंजन का संगठन में स्वागत करते हुए सीवाईएसएस के राज्य संरक्षक व पटना विश्वविद्यालय के छात्र नेता हिमांशु सिंह ने कहा है कि ऐसे समय में जब छात्र राजनीति को कुछ छात्र संगठनों ने गुंडागर्दी का अखाड़ा बना रखा है तब समाजवादी व जनवादी विचार धारा में विश्वास रखने वाले छात्र नेता सीवाईएसएस के बैनर तले गोलबंद हो रहे हैं, इसका प्रभाव आने वाले विधानसभा चुनाव पर भी गहरा पड़ने वाला है. हिमांशु ने आगे कहा है कि राजेश रंजन जी का सीवाईएसएस से जुड़ना जेपी विश्वविद्यालय के छात्र राजनीति के लिए भी शुभ संकेत है. सीवाईएसएस प्रदेश अध्यक्ष आसिफ़ अली ने विधान सभा चुनाव के मद्देनज़र राजेश को तत्काल प्रभाव से प्रदेश महासचिव नियुक्त किया है साथ ही विधानसभा चुनाव प्रचार हेतु छात्र युवाओं को गोलबंद कर घर घर केजरीवाल सरकार के कार्यों को पहुँचाने का निर्देश दिया है.

बताते चलें कि राजेश रंजन जेपी विश्वविद्यालय के छात्र राजनीति में काफ़ी लोकप्रिय चेहरा हैं. छात्र संघ चुनाव 2018 में राजेश ने सचिव पद पर काफ़ी कड़ा टक्कर दिया था तथा मात्र एक वोट से चुक गए थे. विश्वविद्यालय के राजनीतिक दिग्गजों की माने तो राजेश के शामिल होने से सीवाईएसएस बड़े छात्र संगठन के रूप में विश्वविद्यालय की राजनीति उभरेगी.

सीवाईएसएस के राज्य संरक्षक व पटना विश्वविद्यालय के छात्र नेता हिमांशु सिंह

Cresta WhatsApp Chat
Send via WhatsApp
error: Content is protected !!