घुमकड़िया कीर्तनियां बिहार का प्रसिद्ध लोक नृत्य है। घुमकड़िया कीर्तनियां एक भक्ति गीत होता है जो आमतौर पर कृष्ण के जीवन के बारे में होता है , जिसमें एक समूह एक नेता द्वारा गाए गए लाइनों को दोहराता है। हिन्दू धर्म में ईश्वर या देवता की भक्ति के लिये उनके नामों का स्मरण करना गायन करना एवं चिंतन करना भी भक्ति का एक अंग है।भगवान श्री कृष्ण ने भी गीत में कहा है कि मन से या वाणी से मेरे गुणों का गान करना भजन ही कहलाता है। मेरी ही भक्ति का एक रूप है। जिसमे सिर्फ भगवन की मधुर्यमयी लीलाओं को गायन करके या गा के सुनाया जाता है। जिसे हम कीर्तन कहते है।जो माया के प्रभाव को निष्क्रिय कर दे उसे ही तो हम भजन या कीर्तन कहते है। भागवत में वेदव्यास जी लिखते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Cresta WhatsApp Chat
Send via WhatsApp
error: Content is protected !!