नाबार्ड प्रायोजित जिविका उद्यम विकास परियोजना का क्रियान्वयन आरंभ

परियोजना की जानकारी व लाभार्थियों के चयन हेतू बकरी पालक जीविका समूहों की बैठक आयोजित

सिवान | गुठनी | नाबार्ड प्रायोजित जीविका उद्यम विकास कार्यक्रम के तहत् बकरी पालन कारोबार को लाभदायी व सुदृढ़ बनाने हेतु मंगलवार को प्रखंड के बलुआं पंचायत अंतर्गत बसुहारी गाँव में बकरी पालक जीविका समूहों की बैठक परफेक्ट विज़न के तत्वावधान में आहूत की गयी | बैठक को संबोधित करते हुये परफेक्ट विज़न के सचिव मनोज मिश्र ने कहा कि बकरी का दूध बच्चों, बुजुर्गों व दिल के मरीजों के लिए अचूक औषधि है | यह हमारी रक्षा तंत्र को मजबूत बनता है | किसी धार्मिक भावना से नहीं जुड़े होने के कारण सभी धर्म के लोगों में इसके मीट की भारी मांग है | बकरी मीट व बकरी दूध के उत्पादन में देश को क्रमशः पहला व दूसरा स्थान प्राप्त है | उन्होंने कहा कि कम पूंजी में स्व-रोजगार का सुलभ साधन होने के साथ-साथ इसके व्यापक सामाजिक, आर्थिक व स्वास्थ्य सम्बन्धी महत्व होने के बावजूद न तो बकरी पालन कारोबार को अपेक्षित गति मिल पा रही और न ही बकरी पालकों की आर्थिक -सामाजिक स्थिति में सम्मानजनक सुधार हो पा रहा है | सचिव मनोज मिश्र ने कहा की इसका मुख्य कारण यहाँ बकरी पालन कारोबार का असंगठित, अव्यवस्थित व गैर वैज्ञानिक होना है | सचिव ने नाबार्ड की संचालित की जाने वाली ‘गोट – रीयरिंग’ परियोजना के उदेश्य के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि चयनित बकरी पालकों को संगठित कर उन्हें बकरियों के रख-रखाव, नस्ल-संवर्धन, पोषक आहार, हरा चारा, चिकित्सा आवश्यकताएं, बीमा, तकनीकी व व्यवसायिक ज्ञान, ऋण सुविधा, मार्केटिंग, इस कारोबार से सम्बंधित उद्दयम की स्थापना सहित नवीनतम सरकारी योजनाओं एवं सुविधाओं की जानकारी देना है ताकि बकरी पालन कारोबार को लाभदायी , सुदृढ़ व प्रतिस्पर्धी बनाया जा सके | साथ ही साथ बकरी पालकों की आर्थिक व सामाजिक स्थिति में आमूल-चूल सुधार हो सके | मनोज मिश्र ने उपस्थित बकरी पालक जीविका दीदियों को परियोजना अंतर्गत लाभार्थियों के चयन के शर्तों के बारे में जानकारी देते हुए कहा की उन्हीं समूहों/दीदियों का चयन किया जायेगा जो ‘पंच-सूत्र’ नियमों का पालन करतें हों | जीविका के कम्युनिटी को – आर्डिनेटर पिन्टु कुमार ने कहा कि जिले में जीविका समूहों के लिए यह नाबार्ड प्रायोजित पहली महत्वाकांक्षी योजना है जिसे हर हाल में सफल बनाया जायेगा | बैठक में सुयोग्य व इच्छुक बकरी पालक जीविका समूहों से विहित प्रपत्र में आवेदन आमंत्रित किये गए | इस अवसर पर परफेक्ट विज़न के निदेशक जयप्रकाश मिश्र, जीविका के प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों, बुक कीपर रवि प्रकाश राम, उत्प्रेरक मीना देवी सहित अम्बेदकर, पूनम, राधा, चांदनी आदि बीस से अधिक जीविका समूहों की करीब डेढ़ सौ जीविका दीदियां उपस्थित हुई |

रिपोर्ट : मनोज मिश्र, परफेक्ट विजन, सिवान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Cresta WhatsApp Chat
Send via WhatsApp
error: Content is protected !!